सूजन के लिए सूजन की समस्या से निजात दिलाने में विटामिन सी सहायता कर सकता है।

अगर आपको एक्ने और पिम्पल्स की समस्या है, तो आप विटामिन सी सेरम का प्रयोग कर  सकते हैं।

फाइन लाइन्स और रिंकल्स से लड़ने में मदद जब फाइन लाइन्स, झुर्रियों और आपकी त्वचा पर एजिंग की बात आती है तो विटामिन सी आपके बचाव में काम आने वाला एक जरूरी विटामिन है।

त्वचा की रंगत समान करता है विटामिन सी स्किन की रेडनेस और अनइवन स्किन टोन से लड़ने में आपकी मदद करते हैं।

क्षतिग्रस्त सेल्स को रिपेयर करने में और इन्हें मजबूत करने में मदद करता है।

स्किन को हाइड्रेट रखने में मदद विटामिन सी आपकी स्किन को हाइड्रेट रखने में मदद करता है।

सन डैमेज से स्किन का बचाव नियमित रूप से विटामिन सी लेने या विटामिन सी सीरम या क्रीम स्किन पर अप्लाई करने से त्वचा को एक हद तक डैमेज होने से बचाया जा सकता है।

त्वचा में कसाव को बढ़ाता है विटामिन सी स्किन में कोलेजन के उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए सहायक माना जाता है। इससे स्किन एजिंग को धीमा किया जा सकता है।

रिंकल्स कम करता है विटामिन सी को त्वचा पर उम्र के चिन्ह जैसे की झुर्रियां,आई  बैग्स आदि, कम करने के लिए लाभदायक मन गया है

विटामिन सी से भरे खाद्य पदार्थ खाने के साथ साथ आप त्वचा के ऊपर भी विटामिन सी सीरम लगा सकते हैं।

सूरज के हानि को कम करता है टैनिंग कम करने में भी यह लाभदायक पाया गया है।

युवी रेज़ के हानि से बचाव के लिए विटामिन सी और विटामिन इ के एक साथ प्रयोग ज़्यादा लाभदायक होता है।

ज़ख्म जल्दी ठीक होना अल्सर और माइल्ड जलने के चोट के ट्रीटमेंट में भी प्रयोग होता है।

सूजन कम करता है विटामिन सी में एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होते हैं। यह एंटी ऑक्सीडेंट का भी काम करता है,

विटामिन सी के सेवन से अंदरूनी सूजन कम होती है

स्किन पिगमेंटेशन कम होता है विटामिन सी के त्वचा पर प्रयोग से इन समस्याओं का समाधान हो सकता है।

आपको विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थ, जैसे की निम्बू, संतरा, ब्रोकोली, आदि का सेवन बढ़ाना चाहिए।

विटामिन सी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट है जो आपकी त्वचा की रक्षा करने और उसे चमकदार बनाने में मदद करता है

विटामिन सी त्वचा संबंधी कई चिंताओं का समाधान करता है

विटामिन सी का सेवन करने से स्किन पर होने वाले कील मुहांसों और धब्बों से निजात मिलती है।