इसकी पत्तियां उन महिलाओं के लिए किसी अमृत से कम नहीं है जो महिलाएं एंटी एजिंग की समस्या से परेशान हैं।

एनीमिया के लिए गुड़हल एनीमिया यानी खून की कमी, ऐसे में जो लोग इस समस्या से परेशान हैं वे गुड़हल के फूल का उपयोग कर सकते हैं।

वजन को कम करने में मददगार है गुड़हल  जिन लोगों को बार बार भूख लगती है उन्हें बता दें कि गुड़हल का सेवन करने से इस परेशानी से छुटकारा मिल जाता है।

उच्च रक्तचाप के लिए गुड़हल गुड़हल उच्च रक्तचाप से लड़ने में उपयोगी है।

सर्दी और जुकाम को दूर करे गुड़हल शरीर में विटामिन सी का स्तर बढ़ाने में भी गुड़हल एक अच्छा स्रोत है।

त्वचा की समस्या को दूर करे गुड़हल गुड़हल के अंदर विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

मासिक धर्म में गुड़हल महिलाओं में होने वाले मासिक धर्म की अनियमिता को दूर करने में गुड़हल बेहद मददगार है।

गुड़हल की चाय प्यास बुझाने के साथ-साथ शरीर में एनर्जी के लिए भी जरूरी है।

कब्ज की समस्या को दूर करने और पाचन क्रिया को मजबूत करने में गुड़हल अच्छा उपाय है।

अल्जाइमर रोग को रोकने में गुड़हल बेहद उपयोगी है।

किडनी की समस्या और डिप्रेशन को दूर करने में भी गुड़हल के पत्तों को चबाने से राहत मिलती है।

अगर गुड़हल के पत्तों को चबाया जाए तो मुंह के छाले भी दूर होते हैं।

जो लोग याददाश्त कम से परेशान है वे इस फूल को पीसकर बने पाउडर का सेवन दूध के साथ करें। ऐसा करने से याददाश्त बढ़ती है।

गुड़हल की पत्तियों से बनी चाय का सेवन सेवन नियमित रूप से करें।

अल्जाइमर रोग को रोकने में गुड़हल बेहद उपयोगी है।

गुड़हल के पत्तों से बनी चाय मासिक धर्म की समस्या को दूर करने में उपयोगी है।

गुड़हल के फूल का सेवन करने से आयरन की कमी पूरी होती हैं और शरीर में एनीमिया की समस्या को दूर करता है।

गुड़हल के फूल का सेवन करने से आयरन की कमी पूरी होती हैं और शरीर में एनीमिया की समस्या को दूर करता है।

गुड़हल की पत्तियों से बनी चाय काफी एनर्जेटिक होती है

गुड़हल के फूल के अंदर आयरन मौजूद होता है