कोलेस्ट्रॉल कम करन में सहायक  पपीते में उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता है

 वजन घटाने में  एक मध्यम आकार के पपीते में 120 कैलोरी होती है

रोग प्रतिरक्षा क्षमता बढ़ाने में  रोग प्रतिरक्षा क्षमता अच्छी हो तो बीमारियां दूर रहती हैं

पपीता आपके शरीर के लिए आवश्यक विटामिन सी की मांग को पूरा करता है

अगर आप वजन घटाने की बात सोच रहे हैं तो अपनी डाइट में पपीते को जरूर शामिल करें. इसमें मौजूद फाइबर्स वजन घटाने में मददगार होते हैं

पपीता महिलाओं में हृदय रोग के जोखिम को कम करता है।

आंखों के लिए तो ये रामबाण माना जाता है। इसको खाने से आपकी रेटिना पर दुष्प्रभाव नहीं होता है। यह आंखों की रौशनी को भी बढ़ने में मदद करता है

पीरियड में अगर लड़कियों को अधिक दर्द हो तो पपीते का सेवन करना चाहिए

पपीता खाने से गठिया की परेशानी से भी छुटकारा मिलता है

पपीता में जो फाइबर, पोटेशियम और विटामिन होते हैं, उससे हृदय रोग की परेशानी में लाभ मिलता है।

अगर आप वज़न कम करना चाहते हैं तो पपीता का सेवन करें।

पपीता में फाइबर होता है और एंटी ऑक्सीडेंट्स भी, जिनके कारण आपका कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल होता है

पपीता महिलाओं में हृदय रोग के जोखिम को कम करता है।

अगर आपके मुंह में छाले पड़ गए हैं, तो पपीता खाने से वह ठीक हो जाते हैं।

पपीता दांतों से जुड़ी परेशानियों का रामबाण है। कच्चे पपीता से निकला दूध, रूई में लपेटकर दांत में लगाने से दर्द कम हो जाता है।

अगर किसी को लीवर से जुड़ी परेशानी है या फिर जॉन्डिस हो गया हो तो कच्चा पपीता खाना उनके लिए लाभदायक होता है।

कैंसर के खतरे को कम करता है

पपीता महिलाओं में हृदय रोग के जोखिम को कम करता है।पपीता महिलाओं में हृदय रोग के जोखिम को कम करता है।

पपीता महिलाओं में हृदय रोग के जोखिम को कम करता है।

पपीता महिलाओं में हृदय रोग के जोखिम को कम करता है।