You are currently viewing चश्मा हटाना चाहते हैं या आंखों की रोशनी करनी है तेज, अपनाएं ये तरीके

चश्मा हटाना चाहते हैं या आंखों की रोशनी करनी है तेज, अपनाएं ये तरीके

लगातार कंप्यूटर और मोबाइल पर आंखें गड़ाए रहना भले ही आपके काम का हिस्सा हो लेकिन ये आपकी आंखों के लिए बहुत खतरनाक होता है। वहीं मोबाइल में घंटो गेम खेलने की आदत और जंक फूड से नाता भी आंखों की रोशनी ही नहीं चुराता बल्कि तमाम अन्य आंखों से जुड़ी समस्याओं का कारण बन रहा है। छोटी उम्र में ही अब बच्चे मोबाइल यूज करने लगे हैं। यूट्यूब दिखा कर आप भले ही अपने बच्चे को खाना खिला लेती होंगी, लेकिन ऐसा कर के उसकी नजर कमजोर करने में भी आप कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं। इतना ही नहीं रात में लाइट बंद कर मोबाइल देखना और भी खतरनाक होता है।

मोबाइल से निकलने वाली ब्लू रेज आंखों के लिए बेहद खतरनाक होती हैं। आंखों में गड़न या चुभन, लगातार पानी बहना, अचानक और तेजी से नजर कमजोर होना, धुंधला दिखना या आंखों पर जाले बनना, आंखों में लालिमा जैसी समस्याएं अगर आपके सामने आ रही तो आपको सावधान होने की जरूरत है। विश्व भर में आंखों की रोशनी कम होने की समस्या तेजी से बढ़ रही है और यही कारण है कि लोगों को जागरुक करने के लिए 10 अक्टूबर को वर्ल्ड साइड डे मनाया जाता है। आइए इस अवसर पर आपको ऐसे कुछ टिप्स बताते हैं जिसे अपनाने के बाद आपकी नजर तेज भी होगी और आंखों से चश्मा भी हट सकता है।

आंखों की देखभाल के लिए अपनाएं ये सावधानी और उपाय :-

कंप्यूटर स्क्रीन पर काम कर रहे हो या मोबाइल पर लगे हों, आपके लिए जरूरी है कि आप अपनी आंखों को हर दस मिनट पर कुछ आराम दें। इसके लिए आंखों को कई बार झपकाएं ताकि नेचुरल टियर आंखों में बना रहे। साथ ही आंखों को कुछ पल के लिए जरूर बंद करें।

स्वस्थ आंखों के लिए कम से कम 8 घंटे की नींद जरूरी है। ये आपकी सेहत के साथ आंखों को भी की रोशनी के लिए भी जरूरी है।

आंखों की एक्सरसाइज करें। इसके लिए मुंह में हवा भर कर आखों को जितना हो सके उतना फाड़ें। फिर हवा रिलीज करते हुए आंखें भी बंद करें। आंखों पर तीन उंगली रखकर आंखें बदं करें। ऐसा कम से कम दस बार करें। अनुलोम-विलोम प्राणायाम करें।

आंखों को साफ पानी में खूब धोंए। इसके लिए मुंह में हवा भर कर आखों में पानी डालें। इससे आंखें क्लीन होंगी।

साल में दो बार आंखों की जांच जरूर कराएं। ब्लू रेज से बचने के लिए चश्मे का प्रयोग करें। तेज धूप और सूर्य की हानिकारक पराबैंगनी किरणों से आंखों को बचाने के लिए सनग्लासेज पहनें।

पैर के तलवों पर सरसों के तेल की मालिश करें और सुबह हरी घास पर नंगे पैर चलें।

इन घरेलू उपचारों से भी मिलेगी बहुत मदद

मटर के दाने के बराबर फिटकरी का उपाडर बना कर उसे तवे पर सेंक लें, अब इसे गुलाबजल में मिला लें। रात में सोते समय इसकी एक बूंद आंखों में डाल लिया करें। लगातार ये उपाय करने से आपका चश्मे का नंबर कम होना शुरू हो जाएगा।

एक गिलास पानी में नींबू की कुछ बूंद डलें या आंवले के पानी में पानी मिला कर आखें धोएं।

रोज रात में एक गिलास दूध में दो बादाम , आधा चम्मच बड़ी सौंफ और चार मिश्री के दानों का पाउडर बना लें और उसमे मिला कर पीएं। ये आंखों की रोशनी बढ़ाएगा।

यदि आंखों की किसी भी तरह की समस्या है तो आप रोज सुबह रात में भीगे हुए बादाम को पीस कर पीना शुरू करें।

सुबह के समय उठते ही मुंह की लार आंखों में काजल की तरह लगाएं। लगातार ये काम करने से नजर की कमजोरी दूर होगी।

त्रिफला को रात में पानी में भीगा दें, सुबह उठकर इसके पानी से आंखों को धोएं। और त्रिफला को खाएं भी।

मछली का तेल, विटामिन सी और ए युक्त चीजों का सेवन अधिक से अधिक करें। हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन बढ़ा दें।

ये कुछ अचूक उपाय हैं जो आपकी आंखों की रोशनी को बढ़ाएंगे। यदि नजर कमजोर हो भी गई है तो वह सही होने लगेगी।

DR.MANOJ DAS
EMIAL :- support@lewisiawellness.com
MOBILE :- 9358113466