You are currently viewing स्किन एजिंग को कंट्रोल कर सकता है चंदन, जानिए अलग-अलग तरह की स्किन पर कैसे करना है इसका इस्तेमाल

स्किन एजिंग को कंट्रोल कर सकता है चंदन, जानिए अलग-अलग तरह की स्किन पर कैसे करना है इसका इस्तेमाल

मुहांसों से रातों रात छुटकारा पाना हो या किसी खास दिन के लिए एक्स्ट्रा ग्लो करना हाे, चंदन हर जगह काम आता है।

आयुर्वेद में चंदन को इसके औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है। सालों से आयुर्वेद में इसका इस्तेमाल तरह-तरह की बीमारियों के चिकित्सीय इलाज के लिए होता चला आ रहा है। हालांकि, न केवल आयुर्वेद बल्कि मेडिकल साइंस भी इसके फायदों को प्रमाणित कर चुका है। खासकर यह त्वचा से जुड़ी समस्याओं का एक बेहतरीन उपचार हो सकता है। एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीमाइक्रोबियल, एंटी एजिंग, एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टी से भरपूर चंदन को त्वचा पर टॉपिकल इस्तेमाल करने से ढेरों फायदे मिल सकते हैं।

आपने अक्सर देखा होगा कि फेस वॉश से लेकर बॉडी लोशन तक कई प्रकार के स्किन केयर प्रोडक्ट्स में चंदन का कंपोजीशन उपलब्ध होता है। तो चलिए आज हेल्थशॉट्स के साथ जानेंगे चंदन त्वचा के लिए किस तरह काम करता है। साथ ही जानेंगे इसे त्वचा पर किस तरह करना है अप्लाई।

यहां जानें त्वचा के लिए किस तरह फायदेमंद है चंदन

  1. एजिंग की प्रक्रिया को स्लो करता है

चंदन में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं, जो स्किन सेल्स को हेल्दी रखते हुए समय से पहले नजर आने वाले एजिंग के संकेतों से दूर रखते हैं। यह त्वचा को पर्याप्त नमी प्रदान करता है, जिससे आपकी स्किन ड्राइनेस की समस्या से बची रहती है। साथ ही यह स्किन इलास्टिसिटी को भी बनाये रखता है। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर चंदन फ्री रेडिकल्स से स्किन को प्रोटेक्ट करते हुए फाइनलाइन और रिंकल से भी आपको बचाता है।

2. त्वचा पर मौजूद दाग-धब्बों को कम करता है

चंदन अथवा चंदन के तेल के इस्तेमाल से त्वचा को पर्याप्त रूप से हाइड्रेटेड किया जा सकता है, जिससे स्किन सेल्स की इलास्टिसिटी बनी रहती है। इसका फायदा यह होता है कि त्वचा पर अगर पहले से दाग-धब्बे मौजूद हैं, तो उनमें भी कमी आती है। जर्नल ऑफ क्लिनिकल एंड डायग्नोस्टिक रिसर्च के अनुसार चंदन और शहद का इस्तेमाल त्वचा पर हुए जिद्दी और पुराने दाग-धब्बों से निजात पाने का एक बेहतरीन समाधान हो सकता है।

3. एक्ने से देता है इंस्टेंट रिलीफ

एक्ने और फंगल इंफेक्शन की समस्या में चंदन का इस्तेमाल काफी फायदेमंद साबित हुआ है। स्टडी के अनुसार चंदन के इस्तेमाल से एक्ने से पीड़ित मरीजों की स्थिति में काफी सुधार देखने को मिला। आयुर्वेद के अनुसार चंदन की ठंडक प्रदान करने की विशेषता और एंटी इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टी सनबर्न की स्थिति में भी कारगर होती हैं। इसके इस्तेमाल से एक्ने, रैशेज और इंसेक्ट बाइट होने पर तुरंत राहत प्रदान करने में मदद मिलती है।

4. त्वचा को प्राकृतिक ग्लो प्रदान करे

पिगमेंटेशन और त्वचा की रंगत में बदलाव आना बॉडी में बढ़ती गर्मी की वजह से हो सकता है। यह त्वचा के प्राकृतिक ग्लो को पूरी तरह से छीन लेता है। ऐसे में कूलिंग प्रॉपर्टी से युक्त चंदन का इस्तेमाल त्वचा की रंगत को सामान्य रखता है।

पब मेड सेंट्रल द्वारा किये गए अध्ययन के अनुसार चंदन में स्किन लाइटनिंग इफेक्ट मौजूद होते हैं। इसके साथ ही यह सूरज की हानिकारक किरणों के प्रभाव को कम करता है और पिगमेंटेशन की समस्या से निजात दिलाता है।

यहां जानिए अलग-अलग जरूरतों के लिए त्वचा पर कैसे करना है चंदन का इस्तेमाल

  1. ऑयली स्किन के लिए : चंदन पाउडर और गुलाब जल

एक बाउल में दो चम्मच चंदन का पाउडर लें और उसमें गुलाब जल मिलाएं।

इसे अप्लाई करने के पहले त्वचा को पानी से अच्छी तरह साफ कर लें।

फिर इसे त्वचा पर अप्लाई करें और 10 से 15 मिनट तक लगाकर छोड़ दें।

उसके बाद हल्के गुनगुने पानी से त्वचा को साफ कर लें। यदि चंदन का पेस्ट बच गया है, तो इसे रेफ्रिजरेटर में रख कर छोड़ दें। अगले दिन इसे फिर से अप्लाई कर सकती हैं।

2. एक्ने के लिए : चंदन का पाउडर, टी ट्री ऑयल, रोज या लैवेंडर वॉटर

एक छोटे से बाउल में एक चम्मच चंदन का पाउडर डालें, फिर उसमें एक से दो बूंद टी ट्री ऑयल डालें और एक चम्मच रोज या लैवंडर के पानी को डालकर सभी सामग्री को एक साथ अच्छी तरह मिला लें।

अब इसे त्वचा पर अप्लाई करने से पहले स्किन को अच्छी तरह से साफ कर लें।

फिर इस पेस्ट को चेहरे व गर्दन की त्वचा पर सभी और अच्छी तरह लगा लें और 2 से 3 मिनट तक उंगलियों की मदद से सर्कुलर मोशन में त्वचा को इससे मसाज दें।

फिर इसे 10 से 15 मिनट तक स्किन पर लगा हुआ छोड़ दें।

जब यह सूखने लगे तो हल्के गुनगुने पानी से त्वचा को अच्छी तरह साफ कर लें।

3. ड्राई स्किन के लिए : चंदन का पाउडर, योगर्ट या गाय का दूध

सबसे पहले एक छोटे बाउल में चंदन का पाउडर और योगर्ट को अच्छी तरह मिला लें।

यदि योगर्ट आपके चेहरे को सूट नहीं करती है, तो आप दूध का इस्तेमाल कर सकती हैं।

अब इस पेस्ट को त्वचा पर अप्लाई करें। और 2 से 3 मिनट तक त्वचा को मसाज दें।

फिर इसे 10 से 15 मिनट तक त्वचा पर लगाये रखें।

जब यह सूखने लगे तो गुनगुने पानी से त्वचा को साफ कर लें।

DR.MANOJ DAS
EMAIL :- support@lewisiawellness.com
MOBILE :- 9358113466