Know-the-benefits-of-morning-walk-and-at-what-age-should-one-walk-for-how-long

Morning Walk Benefits in Hindi | नियमित मॉर्निंग वॉक (सुबह की सैर) करने के फायदे




नियमित मॉर्निंग वॉक करने के फायदे
मैं Dr. Manoj Das आज आपके साथ Morning Walk Benefits in Hindi में share कर रहा हूँ। मेरी कोशिश होगी की यह लेख  Hindi में इस विषय पर लिखे गए सबसे अच्छे लेखों में से एक हो ।

ये फ्रेज आपने अपने टेक्स्टबुक में पढ़ी होगी। इसके फायदे से भी आप अवगत होंगे लेकिन अर्ली टू राइज एंड रेगुलरली वॉक से आप पूरी तरह वाकिफ नहीं होंगे। आज हम आपको रेगुलरली वॉक यानि की नियमित वॉक करने के फायदे के बारे में बताने जा रहे हैं।
साल 2000 में एक शोध में खुलासा हुआ है कि अगर आप रोजाना नियमित वॉक करते हैं तो सेहत पर लगने वाले खर्च को कम कर सकते हैं। इस शोध में कहा गया है कि अगर व्यक्ति रोज नियमित वॉक करें तो वो सेहत पर किये जाने वाले 20 हजार रुपये सेविंग कर सकता है।

इस शोध के अनुसार जहां 1970 में 66 प्रतिशत बच्चे पैदल स्कूल जाते थे वो अब घटकर केवल 13 प्रतिशत रह गया है। वहीं पैदल चलने की लिस्ट में सबसे शीर्ष पर ऑस्ट्रेलिया रहा, दूसरे नंबर पर जापान और तीसरे नंबर पर अमेरिका रहा है। जहां ऑस्ट्रेलिया का एक व्यक्ति रोजाना 9,695 कदम पैदल चलता है। वहीं जापान का एक व्यक्ति रोजाना 7,168 कदम पैदल चलता है। जबकि अमेरिका का एक व्यक्ति रोजाना 5,117 कदम पैदल चलता है।
नियमित वॉक सेहत के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण मानी गई है क्योंकि सुबह का समय कम प्रदूषित होता है। जिससे आपका मन और दिमाग दोनों को शांति मिलती है। साथ ही आपको स्वच्छ एवं शुद्ध हवा मिलती है। जो आपके शरीर के भीतर स्फूर्ति प्रदान करता है। नियमित वॉक से फिजिकल एक्सरसाइज भी होता है। ऐसे में आप अभी से नियमित वॉक करने की आदत डाल दीजिए। आइये अब जानते हैं कि नियमित वॉक किन किन रोगों में रामबाण दवा है।

डिप्रेशन


एक शोध में खुलासा हुआ है कि जो व्यक्ति एक सप्ताह में 6-9 मील पैदल चलता है। उनकी स्मरण शक्ति अन्य की अपेक्षा अधिक होती है और डिप्रेशन से कोसों दूर रहता है।

डायबिटिज

मेडिकल साइंस में साफ़ कहा गया है कि डायबिटिज से पीड़ित लोगों को नियमित वॉक करना ही चाहिए। ऐसे में अगर आप डायबिटिज के मरीज नहीं है और इस रोग से कोसो दूर रहना चाहते हैं तो आज से ही नियमित वॉक शुरू कर दें। रोजाना आधे घंटे की मॉर्निंग वॉक टाइप-2 डायबिटिज के खतरे की संभावना को कम करता है।

हृदय रोग,

जैसा की आप जानते हैं कि सुबह में वातावरण बिलकुल शुद्ध रहता है। ऐसे में अगर आप रोजाना 30 मिनट मॉर्निंग वॉक करते हैं तो इससे हृदय रोग का खतरा कम जाता है। इसके साथ ही यह आपके तनाव, कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित करता है

दर्द में राहत


अगर आपको हड्डियों और मांसपेशियों में किसी प्रकार का दर्द है तो इसके लिए भी नियमित वॉक सबसे उत्तम है। नियमित वॉक से आपको दर्द में आराम मिलेगा और बॉडी का ब्लड सर्कुलेशन भी सही से होगा।
हड्डियों और मांसपेशियों में दर्द होने पर भी पैदल चलना एक कारगर उपाय है। इससे दर्द में राहत मिलती है। शरीर की कार्यप्रणाली दुरुस्त होती है और गतिशीलता आती है।

तनाव से राहत,

अगर आप तनाव से बिल्कुल निजात पाना चाहते हैं तो सुबह और शाम में रोजाना वॉक करें क्योंकि इससे शरीर में एंडोरफिंस नामक न्यूरोपेप्टाइड्स की एक्टिविटी बढ़ जाती है जो आपके मन मस्तिष्क से तनाव को दूर करता है।

ब्रेस्ट कैंसर

नियमित वॉक ब्रेस्ट कैंसर में लाभदायक है। इससे ब्रेस्ट कैंसर मृत्यु दर कम होता है। डॉक्टर्स हमेशा ब्रेस्ट कैंसर से पीड़ित महिला को रोजाना सैर करने की सलाह देते हैं।

निवेदन:-यदि  यह लेख आपके लिए लाभप्रद रहा हो तो कृपया  कृपया  comment के  माध्यम  से  मुझे ज़रूर बताएं । और इसे अपने Facebook friends के साथ ज़रूर share करें


Main Menu