You are currently viewing माइग्रेन से राहत:आधे सिर के दर्द से हैं परेशान तो इन घरेलू नुस्खों को अपनाएं, तेजी से मिलेगी आराम

माइग्रेन से राहत:आधे सिर के दर्द से हैं परेशान तो इन घरेलू नुस्खों को अपनाएं, तेजी से मिलेगी आराम

माइग्रेन कुछ समय में ही एक ऐसी बीमारी के रूप में उभरकर सामने आया है जो हर दूसरे व्यक्ति में पाया जाने लगा है। माइग्रेन में सिर में बहुत तेज दर्द होता है कभी ये दर्द तेज रोशनी की वजह से होता है तो कभी-कभी शोर से या किसी खास खुशबू से भी ये दर्द होता है। विशेषज्ञ भी अब तक इस बीमारी की सही वजह तलाश नहीं पाए हैं। ऐसे में इस बीमारी का इलाज भी लोगों को नामुमकिन लगता है। इसे जड़ से ठीक तो नहीं किया जा सकता है, लेकिन कुछ ऐसे घरेलू उपाय हैं जिनसे इस बीमारी से राहत जरूर मिल सकती है।गुड़ और दूध का सेवन:-

माइग्रेन के लिए गुड़ के साथ दूध का सेवन सटीक उपाय है। रोज सुबह उठने के बाद खाली पेट छोटा सा गुड़ का टुकड़ा मुंह में रखें और उसके ऊपर से ठंडा दूध पी लें। रोज सुबह इसके सेवन से माइग्रेन के दर्द में काफी आराम मिलेगा।

अदरक का सेवन:-

अदरक कई चीजों के लिए फायदेमंद है। इसमें अब माइग्रेन का नाम भी जुड़ गया है। जब भी माइग्रेन की वजह से सिरदर्द हो तब अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा दांतों के बीच दबा लें और उसे चूसते रहें। एक रिसर्च में भी ये बात सामने आई है कि अदरक माइग्रेन के दर्द को कम करने में मदद करता है।

दालचीनी:

दालचीनी भी माइग्रेन के दर्द से राहत दिलाती है। दालचीनी को पीसकर इसका पेस्ट बना लें और इस पेस्ट को माथे पर करीब आधे घंटे तक लगाकर रखें। ऐसा करने से माइग्रेन के दर्द से राहत मिलेगी।



लौंग
का सेवन:

लौंग भी माइग्रेन के लिए फायदेमंद होती है। जब भी माइग्रेन हो उस समय लौंग के पाउडर में नमक मिलाकर इसे दूध के साथ पी लें। ऐसा करने से माइग्रेन के दर्द से राहत मिलेगी।

ठंडी सिंकाई:

बर्फ वैसे तो कई सारे दर्द की दवा होता है। ऐसे ही बर्फ माइग्रेन में भी कारगर साबित होता है। जब भी माइग्रेन का दर्द उठे तब बर्फ के चार क्यूब्स को रूमाल में लपेटकर इसे सिर पर रखें। करीब 15 मिनट तक इसे ऐसे ही रखे रहने दें। इससे आपको सिरदर्द से काफी हद तक राहत मिलेगी।

हीटिंग पैड:

वैसे तो आज तक माइग्रेन की असल वजह के बारे में पता नहीं चल पाया है, लेकिन कई बार टेंशन के कारण भी माइग्रेन का दर्द होता है। ऐसे में हीटिंग पैड के इस्तेमाल से काफी हद तक राहत मिलती है।

सिर की मालिश:

कहा जाता है कि माइग्रेन का दर्द होने पर हाथों से अगर सिर, गर्दन और कंधों की मालिश की जाए तो राहत मिलती है। मालिश के लिए आप तेल का इस्तेमाल भी कर सकती हैं।

तेज रोशनी से बचें:

तेज रोशनी के कारण भी माइग्रेन का दर्द होता है। ऐसे में यदि आपको माइग्रेन की समस्या है तो तेज रोशनी से जितना हो सके बचना चाहिए।

नींद पूरी करें:

कई बार नींद पूरी न होने की वजह से भी माइग्रेन का दर्द होता है। इसलिए माइग्रेन के मरीजों को अपनी नींद पूरी करना चाहिए। गहरी नींद आने पर माइग्रेन के दर्द से काफी हद तक राहत मिलती है। इसलिए कोशिश करें कि शोर शराबे से दूर शांत कमरे में सोएं।

DR.MANOJ DAS
EMAIL :-   support@lewisiawellness.com
MOBILE :- 9358113466