You are currently viewing चमकदार त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे और उपयोग

चमकदार त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे और उपयोग

जब बात आए खूबसूरत और चमकदार त्वचा की, तो ‘मुल्तानी मिट्टी’ से बेहतर कोई घरेलू उपचार नहीं हो सकता। बाजार में आसानी से मिल जाने वाली मुल्तानी मिट्टी लगभग हर किसी ने लगाई होगी। सिर्फ घरों में ही नहीं, बल्कि ब्यूटी पार्लर में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। यहां तक कि कई स्किन केयर उत्पाद में भी यह शामिल होती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि मुल्तानी मिट्टी के फायदे न सिर्फ त्वचा के लिए, बल्कि बालों और स्वास्थ्य के लिए भी हैं।

इस लेख में हम मुल्तानी मिट्टी के लाभ के बारे में आपको जानकारी देंगे। साथ ही मुल्तानी मिट्टी लगाने का तरीका भी बताएंगे। अब बिना देर करते हुए त्वचा, बाल और स्वास्थ्य के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे जानते हैं।

मुल्तानी मिट्टी क्या है? इससे पहले कि हम मुल्तानी मिट्टी के फायदे बताएं, आपके लिए यह जानना जरूरी है कि मुल्तानी मिट्टी क्या है। मुल्तानी मिट्टी को इंग्लिश में फुलर्स अर्थ (fuller’s earth) कहते हैं। मुल्तानी मिट्टी मुख्य रूप से हाइड्रेटेड एल्यूमीनियम सिलिकेट्स का रूप हैं, जिसमें मैग्नीशियम, सोडियम और कैल्शियम जैसे धातु के अणु होते हैं। इस मिट्टी में मोंटमोरिल्लोनाइट (Montmorillonite) के अलावा एटापुलगाइट (attapulgite) और पैलगोरोसाइट (palygorskite) जैसे प्रमुख खनिज भी शामिल हैं (1)। मुल्तानी मिट्टी त्वचा से गंदगी को निकालने में मदद करती है।

मुल्तानी मिट्टी के लाभ अनेक हैं, जिनके बारे में हम आगे इस लेख में विस्तार से बताएंगे।

जब बात आए मुल्तानी मिट्टी के फायदे की, तो सबसे पहले त्वचा का जिक्र होता है।

त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे :-

1. चमकती त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे :-

सामग्री :

एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी

एक चम्मच टमाटर का रस

एक चम्मच चंदन पाउडर

एक चौथाई चम्मच हल्दी पाउडर

एक तौलिया

बनाने और लगाने का तरीका : –

अपने चेहरे को अच्छे से धोकर तौलिये से सूखा लें।

एक प्लास्टिक या शीशे के कटोरी में सभी सामग्रियों को मिलाकर पेस्ट बना लें।

अब इस पेस्ट को अपने चेहरे पर फेस पैक की तरह लगाएं। ध्यान रहे कि यह पैक आंखों और मुंह के आसपास की नाजुक त्वचा पर न लगे।

इस पैक को 15 मिनट तक या जब तक न सूखे, तब तक लगा रहने दें।

फिर भीगे तौलिये से इसे पोंछ लें और गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।

कब लगाएं?

आप हफ्ते में एक या दो बार इसे लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

यह फेस पैक न केवल आपकी त्वचा से मृत कोशिकाओं को हटाएगा, बल्कि चेहरे पर तुरंत चमक भी लाएगा। यह आपकी त्वचा के रोमछिद्र को खोलकर त्वचा की अशुद्धियों को साफ करता है। इसके बाद आप जो भी लोशन या क्रीम त्वचा पर लगाएंगे, वो अच्छे से आपकी त्वचा में समा जाएगी।

कैसे फायदेमंद है?

यह फेस पैक न केवल आपकी त्वचा से मृत कोशिकाओं को हटाएगा, बल्कि चेहरे पर तुरंत चमक भी लाएगा। यह आपकी त्वचा के रोमछिद्र को खोलकर त्वचा की अशुद्धियों को साफ करता है। इसके बाद आप जो भी लोशन या क्रीम त्वचा पर लगाएंगे, वो अच्छे से आपकी त्वचा में समा जाएगी।

  1. तैलीय त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे

सामग्री :

एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी

एक चम्मच गुलाब जल (आवश्यकतानुसार)

एक तौलिया

बनाने और लगाने का तरीका :

अपने चेहरे को अच्छी तरह से धोकर तौलिये से पोंछ लें।

एक कटोरे में मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल को मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें।

अब इस फेस पैक को अपने चेहरे की नाजुक त्वचा जैसे – आंखों और होंठों के नीचे की त्वचा से बचाकर पूरे चेहरे पर लगाएं।

जब तक फेस पैक सूख न जाए इसे लगा रहने दें।

सूखने के बाद चेहरे को गीले तौलिये से हल्के-हल्के हाथों से पोंछकर गुनगुने पानी से धो लें।

कब लगाएं?

हफ्ते में एक या दो बार आप इस फेस पैक को लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

मुल्तानी मिट्टी न सिर्फ त्वचा की गंदगी को निकालने में मदद कर सकती है, बल्कि तैलीय और शुष्क दोनों प्रकार की त्वचा के लिए तेल उत्पादन को नियमित करने में मदद कर सकती है। कई बार त्वचा से अत्यधिक तेल निकलने से त्वचा के रोम छिद्र बंद हो जाते हैं। इसी वजह से कील-मुंहासे होने लगते हैं। ऐसे में मुल्तानी मिट्टी फेस पैक लगाने से त्वचा से निकलने वाला तेल नियंत्रित होगा।

3. त्वचा के एक्सफोलिएशन के लिए मुल्तानी मिट्टी के लाभ :-
सामग्री :

एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी

एक चम्मच गुलाब जल

बनाने और लगाने का तरीका :

पहले अपने चेहरे को साफ कर लें।

फिर मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल को मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें।

इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाकर हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।

कुछ देर के लिए इसे लगा रहने दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें।

कब लगाएं?

15 दिन में एक बार उपयोग करें।

कैसे फायदेमंद है?

मुल्तानी मिट्टी अपने बेहतरीन एक्सफोलिएटिंग गुणों के लिए जानी जाती है। यह आपकी त्वचा के मृत कोशिकाओं को बहुत ही कोमलता से हटाकर रोम छिद्रों को खोलती है। इससे त्वचा पर होने वाले मुंहासों से बचा जा सकता है।

4. त्वचा को साफ करने के लिए मुल्तानी मिट्टी :-

सामग्री :

एक कप दलिया

एक कप नीम पाउडर

एक चौथाई कप सफेद चंदन

एक चम्मच हल्दी पाउडर

एक चम्मच बेसन

एक कप मुल्तानी मिट्टी

बनाने और लगाने का तरीका :

सारी सामग्रियों को मिलाकर एक पाउडर तैयार कर लें।

फिर इसे एक शीशे के एयर टाइट जार में रख लें।

साबुन के बदले आप इस पाउडर का उपयोग करें।

अपने शरीर व चेहरे पर इस स्क्रब से हल्की-हल्की मालिश करें और फिर गुनगुने पानी से धो लें।

कब लगाएं?

आप हर रोज या हर दूसरे दिन इसे लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

मुल्तानी मिट्टी को क्लींजर के रूप में उपयोग किया जा सकता है। यह न सिर्फ त्वचा से गंदगी को निकालती है, बल्कि त्वचा को एक्सफोलिएट कर रंगत को भी निखारती है। इसमें मौजूद नीम त्वचा की समस्याओं से निजात दिला सकती है। वहीं, हल्दी एंटीसेप्टिक, एंटीऑक्सीडेंट व एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होती है। यह मुंहासों के साथ-साथ त्वचा संबंधी अन्य समस्याओं से भी राहत दिला सकती है ।

5. सनटैन के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे

सामग्री :

एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी

एक चम्मच नारियल पानी (सामग्री की मात्रा आप जरूरत अनुसार ले सकते हैं)

एक चम्मच चीनी

बनाने और लगाने का तरीका :

मुल्तानी मिट्टी को नारियल पानी और चीनी के साथ मिलाएं।

अब इस मिश्रण को सनटैन वाली जगहों पर लगाएं।

फिर थोड़े देर बाद गुनगुने पानी से धो दें।

कब लगाएं?

अच्छे परिणाम के लिए इसे हफ्ते में दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

मुल्तानी मिट्टी और नारियल पानी दोनों की तासीर ठंडी होती है। तपती धूप में नारियल पानी आपके शरीर को अंदर से ठंडा कर देता है। वहीं, जब आप इसको अपनी त्वचा पर लगाते हैं, तो यह आपकी त्वचा को भी आराम दिलाता है। यह फेस पैक आपकी त्वचा को सनटैन से होने वाली जलन, रैशेज या खुजली से राहत दिला सकता है।

DR.MANOJ DAS
EMAIL :- support@lewisiawellness.com
MOBILE – 9358113466